बेगूसराय में शिक्षिका के साथ हेडमास्‍टर साहेब ने किया ऐसा काम, जब शिक्षकों को हुई खबर तो पहुंच गए शिक्षाधिकारी के पास, फिर जो हुआ

Begusarai

न्यूज डेस्क : बेगूसराय जिले से एक हैरान कर देने वाला खबर सामने आया है। बता दें कि जिले के मध्य विद्यालय किल्ली पहाड़पुर एक हैरतमंद कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है। जहां, उक्त स्कूल के सभी शिक्षकों ने स्कूल के ही वर्तमान एचएम पर संगीन आरोप लगाए हैं।

बता दे की इस मामले का खुलासा तब हुआ जब स्कूल के सभी शिक्षक एक साथ शनिवार को जिला शिक्षाधिकारी रजनीकांत प्रवीण के समक्ष पहुंचे। शिक्षकों ने जिला शिक्षाधिकारी से कहा- “सर, एचएम कन्फ्यूज्ड मैन हैं, खुद क्या करते हैं, हम लोगों को पता ही नहीं चलता है। स्कूल के एक भी शिक्षक से इनका बर्ताव ठीक नहीं है। यह एक शिक्षिका को छड़ी से मारे हैं, कहते हैं, आज हम अपना पावर दिखा ही देते हैं। ये सारे आरोप उत्क्रमित मध्य विद्यालय किल्ली पहाड़पुर के शिक्षकों ने एक सुर में अपने एचएम रमण कुमार पोद्दार पर लगाए। वहीं, जब एचएम से जब डीईओ ने जवाब तलब किया तो उन्होंने बस इतना कहा कि सारे आरोप बेबुनियाद हैं, यह सभी आपस में मिल गए हैं और मेरे खिलाफ बोल रहे हैं।

कुछ दिनों पहले डिक्की तोड़कर 75 हजार रुपया निकाल लिया: स्कूल के शिक्षक प्रेम प्रकाश सिंह, शिक्षिका ज्योति रानी, कुमारी अर्पणा, ने वर्तमान एचएम रमण कुमार पोद्दार पर कई तरह के संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि एचएम दो-दो दिन बिना सूचना के विद्यालय से गायब हो जाते हैं। किसी समय चुपके स्कूल आकर हाजिरी बना लेते हैं। स्कूल के महत्वपूर्ण रजिस्टर को अपनी बाइक की डिक्की में रखकर घर ले जाते हैं। पिछले दिनों उन्होंने एकमुश्त विद्यालय विकास मद का 75 हजार रुपया निकाल लिया और बाइक की डिक्की से चोरी हो जाने की शिकायत थाना में कर दी।

जिला शिक्षाधिकारी ने दिए जांच के आदेश: शिक्षक बताते हैं एचएम ने ग्रामीणों से चंदा कर विद्यालय में 11 बिजली का पंखा लगाया था। एचएम ने फर्जी तरीके से उस सबका बिल विभाग में जमा कर राशि गोल-मोल कर दी। प्रधानाध्‍यापक के जवाब से असंतुष्‍ट जिला शिक्षाधिकारी ने डीपीओ समग्र शिक्षा व एमडीएम तनवीर आलम को आदेश दिया कि दस सदस्यीय कमेटी बनाकर उक्त स्कूल के तमाम फाइलों की जांच करवाएं और उसकी वीडियोग्राफी भी करवाएं, ताकि बाद में कोई मुकर न जाए।

You cannot copy content of this page