पटना के हनुमान मंदिर ने दी सर्वाधिक राशि , प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण के लिए आगे आए भगवान हनुमान

Ram Mandir

डेस्क : हिंदू धर्म में आस्था रखने वाले लोग श्री राम प्रभु को खूब मानते हैं, ऐसे में श्री राम प्रभु से जुड़े सेवकों में से खास सेवक भगवान हनुमान जी भी हैं। कहीं भी श्रीराम को दुविधा हुई तो हनुमान जी सेवक के रूप में उनकी सेवा में रामायण में नजर आते हैं। लेकिन, इसका जीता जागता उदाहरण हमें असल दुनिया में भी देखने को मिला है जहां पर राम मंदिर निर्माण के लिए सबसे ज्यादा चंदा हनुमान जी की तरफ से दिया गया है। बता दें कि पटना में मौजूद हनुमान मंदिर से अब तक का सबसे ज्यादा चंदा दिया जाएगा। ऐसे में राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा इकट्ठा करने की तारीख 15 जनवरी से 17 फरवरी तक तय की गई थी।

बता दें कि पटना के हनुमान मंदिर से 5 करोड रुपए की धनराशि राम मंदिर निर्माण के लिए दी जाएगी, यह धनराशि 5 साल में पूरी तरह से दी जाएगी। लेकिन फिलहाल के लिए 10 लाख रुपए अयोध्या के राम मंदिर निर्माण के लिए पटना के हनुमान मंदिर से दिए जा चुके हैं। इस वक्त राम मंदिर निर्माण के लिए सबसे ज्यादा दान बिहार की ओर से दिया गया है। बिहार से कुल 6.25 करोड़ की धनराशि निर्माण कार्य के लिए जा चुकी है। ऐसे में बिहार के छोटे से छोटे बच्चे से लेकर बड़े बूढ़े तक सब ने आगे आकर दान दिया है। बिहार का दानापुर जिला से 1.25 करोड़ रुपए दान दिया जा चुका है। आपको बता दें कि इतना ही नहीं राम जन्मभूमि में मंदिर निर्माण निधि संग्रह समिति की तरफ से आधुनिक तरीके का इस्तेमाल किया गया है।

समिति ने नई एंड्राइड एप्लीकेशन लॉन्च की है। इस एप्लीकेशन में किसने कितना पैसा दिया और किसने किस प्रकार से पैसा दिया उसकी जानकारी आसानी से उपलब्ध हो जाती है। बिहार में मौजूद टोलियां अब तक 22 करोड़ 80 लाख 52 हजार 637 रुपया गिन चुकी है और उन्होंने साफ कहा है कि बैंकों की ओर से ₹19 करोड़ 50 लाख 62 हजार रुपया आया है। इस वक्त राम मंदिर का कार्य जोर शोर से चल रहा है और कई चेक क्लियर किए जा चुके हैं। बिहार के जो जिले करोड़ों रुपए दान कर चुकें हैं, वह इस प्रकार है।

आरा : 1 करोड़ 11 लाख 52 हजार 056
गया : 1 करोड़ 30 लाख 89 हजार 909
औरंगाबाद : 1 करोड़ 27 लाख 94 हजार 835
रोहतास : 89 लाख 87 हजार 430
लखीसराय : 21 लाख 79 हजार 794
मुंगेर : 40 लाख 68 हजार 981
कैमूर : 82 लाख
जहानाबाद : 58 लाख
शेखपुरा : 23 लाख 15 हजार 444
नवादा : 80 लाख, 90 हजार 975
बक्सर : 80 लाख 28 हजार 106
बांका : 61 लाख 80 हजार 262
जमुई : 34 लाख 98 लाख 247
हिलसा : 23 लाख 37 हजार 696
नालंदा : 87 लाख 47 हजार 348
पटना : 7 करोड़ 48 लाख 13 हजार 796
भागलपुर : 1 करोड़ 66 लाख 14 हजार 295
शेरघाटी : 41 लाख 05 हजार 422

You may have missed

You cannot copy content of this page