किसान की मदद करना सरकार का लक्ष्य, हस्तक्षेप नहीं करे दूसरा देश : गिरिराज सिंह

बेगूसराय, 04 दिसम्बर : देश में पहली बार कोई ऐसी सरकार बनी है जो किसानों के समग्र विकास के लिए कई तरह की स्कीम बनाकर उस पर काम कर रही है। योजनाओं को लागू कर किसान का समग्र विकास कर रही है। लेकिन किसान आंदोलन के नाम पर कुछ लोग राजनीति कर रहे हैं। दूसरे देश भी इसमें मदद कर रहे हैं। उन देशों को भारत के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप नहीं करनी चाहिए। यह बातें केंद्रीय पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह ने शुक्रवार को बेगूसराय प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में कही।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार किसान आंदोलन को लेकर किसानों संगठनों से सहानुभूति पूर्वक बात कर रही है। वार्तालाप सकारात्मक हो रही है, किसानों की मदद करना सरकार का लक्ष्य है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने जो नया विधेयक बनाया है वह किसानों के हित में है। इसमें एमएसपी कहीं खत्म नहीं होगी, बल्कि किसान जहां चाहेंगे अपना अनाज बेच सकते हैं। नरेन्द्र मोदी की सरकार ने किसान सम्मान योजना शुरू कर किसानों की मदद किया, कई अन्य योजनाएं चलाई गई। गेहूं और चावल का एमएसपी 40 प्रतिशत से अधिक बढ़ाया गया। दलहन में एमएसपी 70 प्रतिशत से अधिक बढ़ाया गया है। फिर किसान आंदोलन में खालिस्तान जिंदाबाद का नारा क्यों लगता है।

पंजाब के मुख्यमंत्री ने तो स्पष्ट रूप से कह दिया है कि आंदोलन के रास्ते को डायवर्ट करने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे देश की सुरक्षा को खतरा है। तेजस्वी यादव किसानों के समर्थन में धरना पर बैठने की बात कर रहे हैं। वह बताएं की जिस कांग्रेस का समर्थन करते हैं, उस कांग्रेस की सरकार ने 2014 तक कितने एमएसपी पर कितना अनाज खरीदा था। वह बताएं कि कांग्रेस की सरकार ने 2014 तक किस चीज का एमएसपी कितना बढ़ाया था। बेरोजगार हमेशा रोजगार खोजता है और किसान के नाम पर तेजस्वी यादव को एक रोजगार मिल गया है। हैदराबाद के निकाय चुनाव परिणाम पर भी उन्होंने खुशी का इजहार किया। गिरिराज सिंह ने कहा कि हैदराबाद के चुनाव परिणाम ने राष्ट्रवाद का झंडा बुलंद किया है।

प्रयागराज की तरह भाव्य नगर बनने का यह रुझान है। हैदराबाद के लोगों ने वंशवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ वोटिंग कर राष्ट्रवाद का झंडा बुलंद किया गया है। देश में राष्ट्रवाद का झंडा तेजी से बुलंद हो रहा है यह सकून देने वाला है, लेकिन अवार्ड वापसी गैंग को इससे काफी दर्द हो रहा है। बिहार में बढ़ते अपराध के संबंध में उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार अपराध का पक्षधर नहीं है। कार्रवाई हो रही है, सुशासन बाबू खुद अपराध और शराब मामले की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। मौके पर उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय के विकास समेत अन्य योजनाओं पर भी विस्तार से चर्चा की।