स्मार्ट क्लास में प्रोजेक्टर के जरिये पढ़ेंगे सरकारी स्कूलों के बच्चे

स्मार्ट क्लास में प्रोजेक्टर के जरिये पढ़ेंगे सरकारी स्कूलों के बच्चे 1

बेगूसराय। प्राइवेट स्कूल की तरह सरकारी स्कूलों में भी डिजिटल तरीके से पढ़ाई होगी। इस तरीके से पढ़ाई होने से ग्रामीण क्षेत्रों में भी शैक्षणिक माहौल बनेगा व बच्चों में पढ़ाई के प्रति दिलचस्पी तो बढ़ेगी ही साथ ही साथ उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा भी मिलेगी। जिन स्कूलों में स्मार्ट क्लास संचालित हो रहे हैं, वहां के बच्चों को बेहतर और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बहुत ही आसानी से उपलब्ध कराई जा सकती है। इसे समझने और उसी हिसाब से संचालित करने के तरीकों के लिए सभी शिक्षकों को पूर्व में प्रशिक्षण भी दिलाया जा चुका है। हम उम्मीद करते हैं कि उन्नयन बिहार में बेगूसराय सूबे में सबसे बेहतर प्रदर्शन करेगा। यह बातें डीएम अरविद कुमार वर्मा ने सोमवार को दिनकर भवन में शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में कही।

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अधिकारी व शिक्षक और जिला शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों से उन्नयन बिहार की मॉनिटरिग बारीकी से करने का निर्देश दिया। डीईओ देवेंद्र कुमार झा ने कहा कि डीएम अरविद कुमार वर्मा के नेतृत्व में शिक्षा विभाग काफी उन्नति कर रहा है। उन्नयन बिहार योजना सहित शिक्षा विभाग के कार्यकलापों पर जिस तरह से जिलाधिकारी की नजर रहती है, उससे विभाग का काफी शानदार प्रदर्शन कर रहा है। उन्नयन बिहार के जिला नोडल ऑफिसर तनवीर आलम ने बताया कि स्मार्ट क्लास में बच्चों को बेहतर विषय वस्तु समझाने के उद्देश्य से विभिन्न कार्यक्रम संचालित किए जा चुके हैं। इसी कड़ी में आज उन्नयन बिहार से जुड़े जिले के सभी पांच सौ शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

स्मार्ट क्लास में प्रोजेक्टर के जरिये पढ़ेंगे सरकारी स्कूलों के बच्चे 2
कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अधिकारी व शिक्षक

ये भी पढ़ें   बेगूसराय की हर्षिता बनीं बिहार महिला क्रिकेट टीम की कप्तान, जानें - कहां आयोजित होगा टूर्नामेंट..