गिरिराज सिंह ने वोकल फॉर लोकल के प्रमोशन का बताया तरीका, कहा लोकल समान खरीदें और सोशल मीडिया पर डालें

Giriraj Singh

न्यूज डेस्क , बेगूसराय : शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र में घूमते हुए भारत सरकार के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने आत्मनिर्भर भारत की परिभाषा बताई। दरअसल उन्होंने जिले के भगवानपुर चौक पर एक छोटे दे दुकान में बैठकर खादी के कुछ समान खरीदे और उसी दुकान पर उन्होंने कहा कि आज हम बेगूसराय जिले के भगवानपुर में लोकल फ़ॉर वोकल के लिए बिहार से बना हुआ सामान ये जो मिलों के बने हुए कपड़े और खादी कि हैंडलूम के बने हुए कटिया , गमछा जो बिहार का है।

उनको खरीदने का काम किया है, और सबसे अपील करता हूँ आप भी उपयोग में आने बाले समान जो लोकल हो , जिले का हो , प्रदेश का हो उसको खरीदें और अपने सोशल मीडिया पर डालें, उन्होंने कहा कि जो समान लोकल नहीं मिले वहीं बाहर का खरीदें । लोकल फ़ॉर वोकल जब तक नहीं होगा तब तक गाँव समृद्ध नहीं होगा । आगे उन्होंने एक लड़के की चर्चा करते हुए कहा कि जो सत्तू की पैकेजिंग करके बाहर भेजता है, लोकल फ़ॉर वोकल है। तिलौरी अदौरी बड़ी बनाया जा रहा है। जो काबिले तारीफ कदम है। हम भी लेंगे और सबसे लेने भी कहेंगे । जिस दिन लोकल फ़ॉर वोकल हम होंगे । अपना समान बना हुआ उपयोग में लाने का हमारे अंदर स्वभिमान जगेगा । उस दिन आत्मनिर्भर भारत होगा, इसी उद्देश्य से भगवानपुर चौक पर हमने खादी का हैंडलूम का सामान खरीदने का काम किया । आमलोगों से अपील भी करने के लिए आपलोगों के समक्ष मैं आया ।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि वोकल फॉर लोकल को प्रमोट करने के लिए आज बेगूसराय के भगवानपुर में ग्रामीण दुकान से भागलपुर में बनी खादी कटिया कपड़े की खरीदारी की। आप सब भी लोकल को बढ़ावा दे और लोगों को इसके लिए प्रोत्साहित करे

You may have missed

You cannot copy content of this page