LNMU के पीजी रिजल्ट में व्यापक धांधली को लेकर जीडी कॉलेज छात्रसंघ ने मोर्चा खोला

डेस्क : गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बेगूसराय ईकाई व जीडी कॉलेज छात्रसंघ के द्वारा मिथिला विश्वविद्यालय पीजी प्रथम सेमेस्टर के त्रुटिपूर्ण परीक्षा परिणाम के खिलाफ काली पट्टी बांधकर एक दिवसीय प्रतिरोध सह धरना का आयोजन किया गया। धरना का नेतृत्व करते हुए जी डी कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष पुरुषोत्तम कुमार ने कहा कि एक ओर विश्वविद्यालय और सरकार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का ढिंढोरा पीट रही है वही विगत दिनों के परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालयी शिक्षा व्यवस्था के कमजोरियों का पर्दाफाश करता है।

विशेषकर जी डी कॉलेज के कुछ गिने चुने शिक्षकों के द्वारा नियम कानून और नैतिकता को ताक पर रखते हुए लड़के और लड़कियों के इंटरनल मार्क्स में बड़े स्तर पर गरबड़ी की गई है। जी डी कॉलेज के अधिकांश शिक्षक छात्र-छात्राओं का नियमित वर्ग लेकर कॉलेज के माहौल को अच्छा करने का प्रयास कर रहे हैं वही कुछ शिक्षकों को यह माहौल पसंद नहीं आ रहा है। कई मौके पर महाविद्यालय में उनके खिलाफ शिकायतें होती रहती है। मौके पर पूर्व राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी ने कहा कि कुछ छात्र छात्राओं के परीक्षा परिणाम में इतनी घटिया स्तर की गड़बड़ी की गई है कि वह त्रुटि एक बच्चे के द्वारा भी नहीं की जा सकती है।

विश्वविद्यालय हरबरी में परीक्षा परिणाम घोषित कर वाहवाही लूटना चाह रही है। इसलिए बड़े स्तर पर गरबरी जायज है। एबीवीपी जिला प्रमुख विजेंद्र कुमार व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सोनू सरकार ने कहा कि रसायन शास्त्र विभाग के लगभग 30 छात्र-छात्राओं को जबरन फेल कर दिया गया है शिक्षकों का यह कदम छात्र विरोधी व शिक्षा विरोधी तो है ही साथ ही साथ कॉलेज की शिक्षा व्यवस्था पर भी प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। कॉलेज प्रशासन यह दावा करती है कि 75% उपस्थिति के बाद ही छात्र छात्रा फॉर्म भरते हैं और इतनी उपस्थिति के बावजूद क्लास करने वाले छात्र-छात्राओं का परीक्षा परिणाम इतना घटिया आना सिस्टम पर प्रश्न खड़ा करता है।

काउंसिल मेंबर आदित्य राज वह अंशु कुमार ने बताया कि बहुत सारे छात्र छात्राओं अपनी उपस्थिति 90 फ़ीसदी से ऊपर दर्ज किए हुए हैं उन्हें भी इंटरनल में उस छात्र छात्रा से कम मार्क्स आया है जो कभी क्लास का मुंह नहीं देखे ।कुछ गिने-चुने शिक्षकों का यह गैर जिम्मेदाराना कार्य नियमित वर्ग करने वाले छात्र छात्राओं को हतोत्साहित करने वाला है। कॉलेज खुलने पर इस आंदोलन को और जोरदार बनाया जाएगा। मौके पर विवेक,राहुल ,आजाद ,अभिषेक ,सोनू ,सुभाष ,अमरनाथ, नितिन ,विक्रांत आदि कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।