बेगूसराय में भाजपा विधायक के घर पर पीएम और सीएम का पुतला फूंकने पहुंच गए दर्जनों लोग , फिर जो हुआ

Surendra Mehta

न्यूज डेस्क : जब विधायक जी क्षेत्र भ्रमण में थे तभी दर्जनों की तादाद में पहुंचे वामपंथी कार्यकर्ता सत्ताधारी दल के विधायक के घर पर ही देश के प्रधानमंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री का पुतला फूकना चाह रहे थे । उसके बाद जो फिर हुआ उसकी शायद किसी ने कल्पना नहीं की थी । बताते चलें कि बेगूसराय में एक अजीबोगरीब राजनीतिक मामला सामने आया है।

जब दर्जनों की संख्या में वामपंथी कार्यकर्ता एक भाजपा विधायक के घर पर पीएम और सीएम का पुतला फूँकना चाह रहे थे। इस दौरान भाजपा के कार्यकर्ता और विधायक के साथ सीपीआई कार्यकर्ताओं की काफी तीखी बहस व नोक झोंक हुई। यह पूरा मामला तेघड़ा प्रखंड के उत्तरी क्षेत्र के किरतौल गांव केआ है। जहाँ सीपीआइ के कार्यकर्ता चंद्रभूषण सिंह उर्फ जुल्म सिंह, दिनेश सिंह, अशोक सिंह, परमानंद सिंह, बछवाड़ा विधानसभा के भाजपा विधायक सुरेंद्र मेहता के घर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं सीएम नीतीश कुमार का पुतला जलाने के लिए आगे बढ़ रहे थे। उ

सी दौरान भगवानपुर प्रखंड क्षेत्र भ्रमण के बाद विधायक सुरेंद्र मेहता पहुंच गये। इस दौरान भाजपा और सीपीआइ कार्यकर्ता आपस में भीड़ गये। दोनों पक्षों में नोकझोंक हुई। आखिरकार विधायक ने अपने घर पर जाने से कार्यकर्ताओं को रोक ही दिया। इस पर सीपीआई नेता दिनेश सिंह ने कहा कि यह हमारे पार्टी का राज्यव्यापी निर्णय है। इस दौरान भाजपा और सीपीआई कार्यकर्ता में खूब तू तू मैं मैं हुई। कुछ देर के लिए वहां रणक्षेत्र जैसा माहौल हो गया । इस मौके पर बछवाड़ा विधायक सुरेंद्र मेहता का कहना है कि सीपीआई के नेता अपने पैर तले जमीन खिसकते देख इस तरह की गंदी राजनीति करने पर आमादा हैं।

You cannot copy content of this page