बेगूसराय में छठ पूजा के दौरान निजी नाव के परिचालन पर डीएम एसपी ने लगाया पूर्णतः प्रतिबंध

बेगूसराय : छठ पूजा के दौरान नदी में बेवजह नाव से घूमने वाले तत्व पर कार्रवाई को लेकर प्रशासनिक महकमा अलर्ट है। आगामी छठ पर्व को लेकर बेगूसराय जिला प्रशासन के द्वारा छठ पर्व के दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए बेगूसराय के डीएम अरविंद वर्मा एवं एसपी अवकाश कुमार ने नदियों, पोखरों और अन्य जलाशयों में बेवजह नाव से नदियों में घूमने पर प्रतिबंध लगाने का आदेश अधिकारियों को दिया है।

डीएम व एसपी ने पर्व के दौरान जिले में निजी नाव के परिचालन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के आदेश भी जारी किये हैं। उन्होंने कहा है कि छठ पर्व 20 और 21 नवंबर को मनाया जाएगा लोक आस्था के महापर्व घाटों पर बहुत भीड़ भाड़ की स्थिति होती है ऐसे में लाखों की संख्या में छठ व्रतियों एवं उनके परिवार के सदस्य द्वारा गंगा और अन्य नदियों के किनारे दिया जाता है ऐसा देखा गया है कि छठ पर्व के अवसर पर बहुत लोग नदी में प्रचार प्रसार एवं घूमने के बहाने नाव पर घूमते हैं तथा आतिशबाजी करते हैं जिससे छठ व्रतियों को असुविधा होती है और विधि व्यवस्था संधारण में समस्या उत्पन्न होती है कि लोगों को ले जाया जाता है बालों की गति भी तेज होती है दुर्घटना की संभावना रहती है ऐसे में दुर्घटना हुई है।

गंगा के सटे जिलों के जिलाधिकारियों को भी लिखा गया है पत्र बेगूसराय के डीएम और एसपी ने पटना समस्तीपुर खगड़िया और लखीसराय के जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि अपने-अपने क्षेत्र में नाव के परिचालन पर रोक लगाया जाए एसपी और डीएम ने अपने पत्र में कहा है कि जिला अधिकारियों से अपील की गई है कि गंगा और अन्य नदियों का किनारा आपके जिला अंतर्गत पड़ता है विधि व्यवस्था हेतु नाव के परिचालन पर रोक लगाना आवश्यक है बहरहाल छठ कुछ दिनों के बाद होने वाले हैं इससे पहले बेगूसराय में प्रशासनिक महकमा छठ के दौरान किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए अलर्ट दिख रहा है। ऐसे में द बेगूसराय भी आप लोगों से अपील करता है , कि प्रशासनिक व्यवस्था में सहयोग बनाते हुए छठ के अवसर पर अपने परिवार वालों के संग लोक आस्था के महापर्व को हंसी खुशी मनाएं।