DM ने किया गरीब कल्याण रोजगार अभियान की समीक्षा बैठक,अधिकारियों को काम में तेजी लाने के निदेश

बेगूसराय : समोवार को जिला समाहरणालय स्थित कारगिल विजय सभा भवन में गरीब कल्याण रोजगार अभियान” से संबद्ध एक महत्वपूर्ण साप्ताहिक समीक्षा बैठक की गई। उक्त बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी बेगूसराय अरविंद कुमार वर्मा ने किया । बैठक के दौरान अभियान के तहत विभिन्न अवयवों की भौतिक एवं वित्तीय लक्ष्य की समीक्षा कर उसके गति में वृद्धि करने का निदेश दिया।

उन्होंने कहा कि यह एक सीमित अवधि का अभियान है जिसका मुख्य उद्देश्य ही ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक-से अधिक रोजगार सृजन करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को भी गति देना है। उन्होंने एनएचएआई की कार्य प्रगति को खेदजनक बताते हुए कहा कि इस गति से कार्य करने में निर्धारित अवधि में लक्ष्य की प्राप्त नहीं की जा सकती है। अभियान के तहत एनएचएआई के लिए 60.40 किमी पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है जबकि अब तक केवल 6.74 किलोमीटर का ही कार्य किया जा सका है तथा वित्लीय लक्ष्य की भी प्राप्ति 7.9 प्रतिशत है।

गरीब कल्याण रोजगार अभियान तक हुए हैं ये सब काम

अभियान के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत निर्धारित लक्ष्य 8681 के विरुद्ध अब तक 3621 आवासों का निर्माण, 256 सामुदायिक शौचालयों के विरुद्ध 24, जल संरक्षण से संबंधित लक्ष्य 177 के विरूद्ध 309 योजनाओं को पूर्ण किया जा चुका है। इसी प्रकार फॉर्म पॉन्ड से संबंधित निर्धारित लक्ष्य 56 के विरूद्ध 67 तथा मवेशी शेड से संबंधित लक्ष्य 411 के विरुद्ध 59 शेड का कार्य पूर्ण किया गया है। इसके साथ ही वृक्षारोपण के तहत निर्धारित लक्ष्य 6.4 हेक्टेयर के विरुद्ध 23.04 हेक्टेयर क्षेत्र पर वृक्षारोपण किया गया है।

इसी प्रकार ऑप्टिकल फाइबर से संबंधित कार्यों जैसे- जीपीएस लाइव, वाय-फाई हॉटस्पॉट कनेक्शन, एफटीटीएच कनेक्शन आदि से जुड़े कार्यों की भी कम प्रगति पर जिला पदाधिकारी ने असंतोष जाहिर करते हुए नाराजगी भी जताई और संबंधित विभाग को विभागीय समन्वय स्थापित करते हुए कार्य की गति में तेजी लाने का निर्देश दिया। इसी क्रम में उन्होंने सामुदायिक शौचालय निर्माण, ग्राम पंचायत भवन के निर्माण, जल संरक्षण एवं संचयन, वृक्षारोपण, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा परियोजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, फॉर्म पाउडर/केटल शेड/वर्मी कंपोस्ट संरचना आदि से संबंधित संख्यात्मक एवं वित्तीय लक्ष्य प्राप्ति की समीक्षा की गई तथा आवश्यक निर्देश दिए गए। इस अवसर पर उप विकास आयुक्त सुशांत कमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मंजू प्रसाद सोहित एनएचएआई, बीएसएनएल, रेलवे, कृषि, ग्रामीण कार्य विभाग के प्रतिनिधि भी मौजूद थे।