आपदा प्रबंधन का गुर सिखेंगे बेगूसराय के युवा : डीएम

बेगूसराय : जनता के बीच जागरूकता फैलाकर आपदा से हुए क्षति को काफी हद तक कम किया जा सकता है। मंगलवार को बेगूसराय के जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने कहा कि आपदा प्रभावों को कम करने के लिए जागरूकता का होना आवश्यक है तथा जो व्यक्ति, समुदाय और समाज विभिन्न आपदाओं के कारणों एवं प्रभावों के संबंध में जितना जागरूक होगा, उस पर आपदा का प्रभाव उतना ही न्यून होगा। उन्होंने ये बातें आज बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, पटना दवारा मानसून की अवधि में घटित होने वाली संभावित आपदाओं के जोकिम न्यूनीकरण एवं प्रबंधन विषय पर जूम एप के माध्यम से जिला के सभी पदाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों के लिए आयोजित ऑनलाईन संवेदीकरण/अभिमुखीकरण के दौरान कही।

जागरूकता फैलाकर किया जाएगा आपदा प्रबंधन इस अवसर पर जिला पदाधिकारी ने कहा कि विभिन्न प्रकार की आपदाओं के दौरान उठाए जाने वाले उचित कदमों के संबंध में जागरूकता प्रसार हेतु इस उन्मुखीकरण कार्यक्रम का काफी महत्व है क्योंकि इससे न सिर्फ विभिन्न आपदाओं के दौरान की जाने वाली प्रक्रिया के संबंध में जानकारी प्राप्त होती है बल्कि यह आपदा पूर्व एवं उपरांत के दौरान भी उठाए जाने वाले कदमों के संबंध में जानकारी हेतु काफी लाभदायक है। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक आपदाओं यथा बाढ, डूबने की घटना, नाव दुर्घटना, सर्पदंश, वज्पात, कोविड-19 आदि के दौरान संस्थागत भूमिका काफी महत्वपूर्ण है लेकिन व्यक्तिगत जागरूकता भी बेहद अहम है।

जिला पदाधिकारी ने कहा कि विगत कुछ वर्षों में बाढ़, वज़पात आदि संबंधी दुर्घटनाओं से संबंधित मामलों की बारंबारता में वृद्धि देखी जा रही है। इसलिए जरूरी है कि आमजन इन प्राकृतिक आपदाओं के संबंध में अधिकाधिक जागरूक बने ताकि जान-माल का कम-से-कम नुकसान हो। उन्होंने बताया कि जिले में संभावित बाद/वर्षा के साथ-साथ वजपात, नौका परिचालन, कोविड-19 आदि के संबंध में अपनाई जाने वाली सावधानियों के बारे में व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है ताकि आमजन में जागरूक का प्रसार हो सके। जिला पदाधिकारी ने बताया कि जिले में आपदा प्रबंधन दृष्टिकोण से सभी 229 पंचायतों में प्रशिक्षण हेतु दस-दस युवाओं की सूची तैयार की जा रही है। इस प्रकार कुल 2290 युवाओं को बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के माध्यम से प्रशिक्षित किया जाना है जो किसी भी प्रकार की आपदा प्रबंधन में सहायक सिद्ध होंगे।

इस अवसर पर व्यास जी, उपाध्यक्ष, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, पी.एन.राय, माननीय सदस्य, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, बंकू बिहारी सरकार, आपदा जोखिम न्यूनीकरण पदाधिकारी, यूनिसेफ, घनश्याम मिश्र, यूनिसेफ, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के डॉ. पल्लव, जीवन कुमार, डॉ. मधुबाला आदि ने भी विभिन्न आपदा विषयों पर तैयारी एवं बचावों के संबंध में महत्वपूर्ण विचार रखे। ऑनलाईन अभिमुखीकरण कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक श्री अवकाश कुमार, सहायक समाहर्त्ता स्पर्श गुप्ता, अपर समाहर्त्ता मो. बलागउद्दीन, नगर आयुक्त सौ अब्दुल हमीद, उप विकास आयुक्त सुशात कुमार, आपदा प्रभारी अनीश कुमार आदि मौजूद थे।