बेगूसराय के शहरी इलाकों में डेंगू बुखार ने दिया दस्तक, बचाव के लिए किया जा रहा है फॉगिंग

डेस्क /बेगूसराय : कोविड 19 के साथ जिले में डेंगू ने भी दस्तक दे दी है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग व नगर निगम द्वारा लोगों को डेंगू से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है वहीं नगर निगम द्वारा शहर के सभी वार्डों में फॉगिंग की जा रही है। ताकि समय रहते डेंगू के प्रकोप को रोका जा सके। सोमवार को नगर निगम द्वारा शहर के वार्ड 32 में डेंगू के बचाव के फॉगिंग (मच्छर मारने वाली दवा) का छिड़काव किया गया।

कोरोना के घटते मामलों के बीच बेगूसराय में शहरी क्षेत्र के कुछ पॉश इलाकों में डेंगू बुखार ने अपना पांव पसारना शुरू कर दिया है। बताते चलें कि डेंगू बुखार मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर साफ पानी में रहता है । बेगूसराय शहर के कुछ पॉश मोहहले से बीते दिनों में डेंगू के अधिकतर मामले सामने आए हैं। दर्जनों मामले में लोगों ने बताया कि बुखार और सर में बहुत जोर का दर्द और बदन दर्द हो रहा था। जानकार बताते हैं डेंगू बुखार से बचाव किया जा सकता है। इसके लिए लोगों को परहेज करना होगा और ठंड के दिनों में भी मच्छरदानी लगाकर ही रात में सोना होगा ।

डेंगू के प्रकोप के बीच लगातार उठ रही मांगों को देखते हुए नगर निगम के कई वार्डों में फागिंग की जा रही है। इस बात की तस्दीक तब हुई जब सोमवार की शाम शहर के कुछ मोहल्लों में फॉगिंग करने वाली टीम को डेंगू से बचाव के लिए फॉगिंग करते देखा गया ।विदित हो कि शहर के मशहूर सर्जन चिकित्सक डॉ एके पाठक की मौत बीते दिनों डेंगू बुखार से हो गयी थी । जिसके बाद प्रशासनिक महकमा डेंगू से बचाव को अलर्ट दिखने लगा है।