बेगूसराय से चार दिन से गायब इंटरमीडिएट के छात्र का शव पटना जिला में मिला, परिजनों में मचा कोहराम

Boy

न्यूज डेस्क : चार दिन पहले बेगूसराय शहर से स्कूल जाने के दौरान गायब हुए इंटरमीडिएट के छात्र का शव पटना जिला के औंटा (मोकामा टाल) के समीप रेलवे लाइन के किनारे पानी में बरामद हुआ है। सोमवार की सुबह शव मिलने की सूचना पाते ही परिजनों में कोहराम मच गया है। मृतक सिंघौल ओपी क्षेत्र स्थित विनोदपुर निवासी नीरज कुंवर के पुत्र ऋतुराज कुमार के रूप में की गई है। ऋतुराज इटवा डीएवी के 12 वीं कक्षा का छात्र था। मृतक के चाचा अधिवक्ता गोपाल कुमार ने बताया कि ऋतुराज अन्य दिनों की तरह 26 अगस्त को विद्यालय जाने के लिए घर से निकला था, लेकिन विद्यालय नहीं पहुंचा।

इसके बाद सिंघौल ओपी में आवेदन देकर खोजबीन की जा रही थी, लेकिन कुछ पता नहीं चला। इसी बीच खोजबीन के दौरान बेगूसराय रेलवे स्टेशन से ऋतुराज की साइकिल और स्कूल बैग बरामद किया गया था। उसे कपस्या चौक से अपराधी बन चुके छात्र के साथ जाने की सूचना मिली तथा अंतिम बार कुछ लोगों ने जी.डी. कॉलेज परिसर में देखा था। दबाव बनाए जाने पर उक्त छात्र को पुलिस ने हिरासत में लिया, लेकिन छोड़ दिया।दो दिन पूर्व मोकामा टाल इलाके में औंटा के समीप मछुआरों ने रेलवे लाइन के किनारे पानी में शव देखकर थाना और रेल पुलिस को सूचना दिया लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। इसके बाद आज सोमवार को पानी से शव निकालकर स्कूल ड्रेस के आधार पर हाथिदह पुलिस ने सूचना दिया, इसके बाद पहचान हो सकी है। इधर ऋतुराज का शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है, गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।

लोगों का कहना है कि सूचना मिलते ही पुलिस त्वरित कार्रवाई करती तो ऋतुराज को जिंदा बचाया जा सकता था। इस संबंध में सिघौल ओपी प्रभारी ने बताया कि परिजनों द्वारा लापता होने का आवेदन दिया गया था। वहीं पुलिस प्रशासन की विफलता भी सामने आ रहे हैं अगर पुलिस तत्परता के साथ इस कार्ड में लगती तो शायद यह घटना नहीं घटित होती।

You may have missed

You cannot copy content of this page