बेगूसराय में कोरोना टीकाकरण के लिए तैयार हो गया स्वास्थ्य कर्मियों का डाटा बेस

बेगूसराय : कोरोना वैक्सीन के जल्द आने को लेकर अब उम्मीदें काफी प्रबल होने लगी है। ऐसी संभावना है कि बहुत ही जल्द जिले में कोरोना का वैक्सीन आ जायेगा। इसको लेकर बेगूसराय जिला प्रशासन ने भी कमर कस लिया है। राज्य स्वास्थ्य समिति से प्राप्त निर्देशों के अनुसार कोरोना का वैक्सीन आने के बाद सबसे पहले जिले भर में सरकारी और निजी क्षेत्र में काम करने वाले डॉक्टर, नर्स, पारा मेडिकल स्टाफ, आशा, आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिका सहित स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाले सभी स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया जाना है।

इसके लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वैक्सीन के आने से लेकर उसके भंडारण और वितरण को लेकर एक टास्क फोर्स का गठन किया है।(वैक्सीन भंडारण के लिए 18 कोल्ड चेन-)सदर अस्पताल बेगूसराय के अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. विरेश्वर प्रसाद ने बताया कि जिले में कोरोना वैक्सीन के भंडारण के लिए कुल 18 कोल्ड चेन बनाये गए हैं। इसके साथ ही जिले भर में 2759 स्वास्थ्य कर्मियों, तीन हजार आशा बहनों के नाम का ऑनलाइन पोर्टल पर इंट्री हो चुकी है। जिले भर की आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका के नामों की भी डाटा इंट्री लगातार की जा रही है।(450 से अधिक स्वास्थ्य संस्थानों को किया गया फैसिलिटेट-) अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. विरेश्वर प्रसाद ने बताया कि जिले भर में कोरोना वैक्सीन को लेकर कुल 450 से अधिक संस्थानों को फैसिलिटेट किया जा चुका है।

उन्होंने बताया कि सदर हॉस्पिटल में स्टेट से मिलने वाले वाकिंग कूलर के लिए भी हॉस्पिटल में उपाय किए जा रहे हैं। इसके साथ ही केयर इंडिया के सहयोग से जिले भर में फ्रंट लाइन में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों की पहचान कर उसके नामों को ऑनलाइन पोर्टल पर डाला जा रहा है।(वैक्सीन के आने तक करें यह उपाय-)जब तक जिले में कोरोना का वैक्सीन नहीं आ जाता है, तब तक सभी लोग अनिवार्य रूप से मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। भीड़-भाड़ वाले जगहों पर जाने की स्थिति में शारीरिक दूरी के नियम का हमेशा पालन करें। घर से बाहर निकले पर किसी प्रकार की चीजों को छूने की स्थिति में साबून या सैनिटाइजर से अपने हाथों को जरूर साफ करें।