Youtube से पढ़कर बेगूसराय के उत्कर्ष दीप ने IIT एग्जाम को किया क्रैक, पिता को मारा लकवा तो माँ ने मॉल में झाड़ू-पोछा कर बेटे को पढ़ाया..

Begusarai News

न्यूज डेस्क: किसी ने बड़े कमाल के बात कही है, मेहनत के बिना कुछ नहीं मिलता..सपनों का फूल यू ही नहीं खिलता..जब तक मेहनत के दीये नहीं जलते.. तब तक मुश्किलों का अँधेरा नहीं मिटता.. इसी चंद पंक्तियों को साकार कर के दिखाया है बेगूसराय के उत्कर्ष दीप।

उन्होंने ऑल इंडिया आईआईटी (IIT) में 5713 रैंक एवं ईडब्ल्यूएस में 597 वां स्थान लाकर अपने माता-पिता तथा जिले का नाम ऊंचा किया है। मालूम हो कि उत्कर्ष के पिता नागमणि सिन्हा पैरालिसिस ग्रस्त है। जिसके कारण उनके परिवार की आर्थिक स्थिति काफी चरमराई हुई है। इस वजह से उनकी मां किरण सिन्हा V-मार्ट में काम कर किसी तरह घर चलाती हैं और बडा लड़का हर्षदीप को केंद्रीय विश्वविद्यालय राजस्थान से बायोटेक की पढ़ाई करवा रहे हैं।

यूट्यूब से पढ़ कर इस मुकाम को हासिल किया:

बता दें कि छोटा लड़का उत्कर्ष दीप को शहर के पोखरिया स्थित आरसी एकेडमी स्कूल में दसवीं एवं 12 वी की पढाई बरौनी के सेंट जिडस स्कूल में कराया है। उत्कर्ष इस सफलता का श्रेय अपने बडे भाई के अलावा मित्र सौरभ कुमार एवं रंजीत कुमार को देते हैं। उत्कर्ष यूट्यूब और बुक पढ़ कर इस सफलता को हासिल किया। यह सफलता पर एबीपीवी के कार्यकर्ताओ ने उत्कर्ष के घर पर पहुंचकर उन्हें सम्मानित करने का काम किया है। मौके पर कई एबीपी कार्यकर्ता ने सम्मानित किया और कहा कि उत्कर्ष दीप से सभी छात्रों को प्रेरणा लेनी चाहिए। उत्कर्ष दीप के इस सफलता से परिवार वलो के अलावा आसपास के लोगों में भी खुशी व्यक्त की है।

You cannot copy content of this page