जमींदारों से संघर्ष कर हासिल जमीन पर सीपीआई के संजू देवी ने अपनी शहादत दी-पूर्व विधायक

छौड़ाही : छौड़ाही ओपी क्षेत्र के बाजितपुर गांव में विगत दिनों विवादित 241 बीघा जमीन के स्वामित्व को लेकर सीपीआई एवं सीपीएम कार्यकर्ताओं के बीच हुए हिंसक झड़प में मारी गई सीपीआई की महिला कार्यकर्ता संजू देवी के याद में बाजितपुर में सीपीआई द्वारा गुरुवार को श्रद्धांजलि प्रतिरोध सभा का आयोजन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उपस्थित लोगों ने शहीद संजू देवी अमर रहे का नारा लगाया एवं उनके चित्र पर फूल माला अर्पित की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीपीआई के जिला मंत्री पूर्व विधायक अवधेश राय ने कहा कि जमींदारों से संघर्ष कर हासिल की गई जमीन पर प्रशासनिक लापरवाही के कारण सीपीआई के महिला कार्यकर्ता ने अपनी शहादत दी है। गुंडों से अपनी जमीन और फसल की रक्षा कर रहे संजू देवी की निर्मम हत्या कर दी गई। पुलिस अभी तक हत्यारों के घर तक नहीं जा पाई है। गिरफ्तारी की बात तो दूर है। कहा शहीद संजू देवी की शहादत सीपीआई व्यर्थ नहीं जाने देगी। हत्यारों को सजा दिलाने तक सीपीआई चैन से नहीं बैठेगी।

सीपीआई नेताओं ने मृतका संजू देवी के संतान के लालन पालन पोषण की जिम्मेदारी लेने की भी बात सीपीआई नेताओं ने ली। बच्चों को मंच पर लाकर उनका हौसला बढ़ाया गया। सीपीआई नेताओं ने प्रशासन से जमीन का पर्चा यथाशीघ्र ग्रामीणों को देने, शहीद संजू देवी के हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार करने, मृतका के स्वजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा देने आदि की मांग की। उपस्थित सीपीआई कार्यकर्ताओं ने जमीन पर वंचितों को हक दिलाने तक संघर्ष जारी रखने का संकल्प लिया। इस अवसर पर वरिष्ठ सीपीआई के वरिष्ठ नेता राजेंद्र चौधरी, प्रणव कुमार, अनुमंडल प्रभारी राम पदारथ सिंह, विद्यानंद राय , मोहम्मद जावेद आदि सीपीआई कार्यकर्ता एवं ग्रामीण मौजूद थे।