मंझौल के चारो तरफ कोरोना का दस्तक, बावजूद जारी है लॉकडाउन का उलंघन

मंझौल : जिले के अनुमंडल मुख्यालय मंझौल में लॉक डाउन का खुलेआम उलंघन जारी है। लॉक डाउन के प्रथम चरण के बाद द्वितीय चरण से ही बाजार के दुकान खुलने शुरू हो गये थे, फिलवक्त आलम यह है कि बाजार में अनावश्यक समान की दुकानें बंद है।फिर भी लोगों का भीड़ देख कर ये नहीं लगता कि सभी दुकानें बंद है।चोरी छिपे दुकान का खुलना लगातार जारी है, वहीं मंझौल ओपी क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में क्रिकेट टूर्नामेंट भी लगातार जारी है।

लॉक डाउन 3.0 के शुरुआत से ही जारी है खुलेआम उलंघन : लॉक डाउन 3.0 में मंझौल बाजार सहित ओपी क्षेत्र में सामाजिक दूरी के पालन को लेकर विशेष इंतजामात नहीं दिख रहे हैं। ऐसे में जनता अन्य दिनों की तरह लोकडॉवन में भी सामाजिक दूरी का पालन करते हुए नहीं दिख रही है। सभी दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग के पालन और लोकडॉवन में दुकान चलाने को लेकर जिला प्रशासन द्वारा खास दिशा निर्देश दिये गये हैं। प्रशासनिक दिशा निर्देश के वाबजूद भी इसके पालन के लिये मंझौल बाजार में दुकानदार और जनता में जागरूकता नहीं देखी जा रही है। जो चिंता का सबब बना हुआ है।

बता दें कि मंझौल अनुमंडल मुख्यलय के चारो तरफ नावकोठी, गढ़पुरा , खोदबन्दपुर, वीरपुर, छौड़ाही तक कोरोना के दस्तक के बावजूद भी प्रसासनिक स्तर से उदासिनता पर संक्रमण के खतरा से इनकार नहीं किया जा सकता, सूत्र की माने तो पदाधिकारियों के द्वारा निगरानी नहीं दिये जाने के कारण ऐसी स्थिति उतपन्न हुई है, अगर सामाजिक दूरी का कराई से पालन को लेकर उक्त दुकानदारों को निर्देश दिया जाय तो सामाजिक दूरी का पालन करना सुनिश्चित किया जा सकता है, लेकिन  ऐसा नहीं होने से कोरोना के संक्रमण की खतरा को नकारा नहीं जा सकता है। मछली बाजार और सब्जी बाजार में भी स्थिति रोज शाम बेकाबू होती दिखती है।