बेगूसराय में कोरोना वायरस ने ली दो लोगों की जान, तेजी से बढ़ रहा संक्रमित लोगों का ग्राफ

COVID BEGUSARAI

डेस्क : बेगूसराय में कोरोना वायरस फिर से जिंदगी लीलना शुरू कर दिया है। मंगलवार की रात बेगूसराय में दो लोगों की जान कोरोना से चली गई, जबकि 91 लोगों का इलाज आइसोलेशन में अभी चल रहा है। कोरोना संक्रमण के प्रकोप के मद्देनजर अब 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को होम आइसोलेशन में नहीं रखा जाएगा, पॉजिटिव पाए जाते ही उन्हें अस्पताल में चिकित्सकों की निगरानी में रखा जाएगा।

यह जानकारी डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बुधवार को कारगिल विजय भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में दी। डीएम ने बताया कि एक मार्च के बाद बेगूसराय में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। इस दौरान 157 लोग संक्रमित पाया जा चुके हैं, जिसमें से 91 लोगों का इलाज चल रहा है। जबकि सूजा निवासी योगेश्वर ठाकुर तथा चाणक्य नगर निवासी शिव शंकर राय की मौत मंगलवार की रात होम आइसोलेशन में इलाज के दौरान हो गई है। पॉजिटिव केस लगातार बढ़ता जा रहा है, इस अनुपात में जांच की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। एक मार्च के बाद अब तक 44 हजार 469 लोगों की जांच किया जा चुका है तथा प्रत्येक दिन कम से कम तीन हजार जांच का लक्ष्य रखा गया है।बेगूसराय में सबसे अधिक मामला बेगूसराय सदर प्रखंड और नगर क्षेत्र में है, यहां 64 लोग कोविड संक्रमित हैं। जिला भर में 46 जोखिम क्षेत्र (कंटेनमेंट जोन) बनाया गया है।

पॉजिटिव पाए जाते ही जोखिम क्षेत्र बनाकर, उसके सभी लोगों की जांच और कांटेक्ट ट्रेसिंग समेत अन्य कार्रवाई की जा रही है। कोरोना प्रोटोकाल का पालन कराने के लिए प्रशासन लगातार विशेष जांच अभियान चला रही है। 27 वाहनों को जब्त किया गया है तथा सभी विभाग को प्रोटोकॉल के पालन का आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है। वाहन में 50 प्रतिशत ही सवारी बैठाए जाएंगे, स्कूल-कॉलेज 11 अप्रैल तक बंद रहेंगे, इसके बाद स्थिति के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

You may have missed

You cannot copy content of this page