बखरी विधायक के विवादास्पद बोल ! कहा – हम लोगों को ब्राह्मणों ने आज तक ठगा, न्यूज रिपोर्टर को कहा इसका प्रचार प्रसार कीजिये

Suryakant Paswan

न्यूज डेस्क : बेगूसराय के बखरी सुरक्षित विधानसभा सीट से साल 2020 के विधानसभा चुनाव में विधायक चुने गए सीपीआई पार्टी के नेता सूर्यकांत पासवान इन दिनों सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे हैं । ट्रोल होने की जो वजह सामने आई है वह काफी हैरान करने वाली है। दरअसल विधायक सूर्यकांत पासवान अपने बोले गए विवादास्पद बयानों के कारण जिले के एक खास वर्ग के लोगों के निशाने पर आए हुए हैं।

बीते दिनों बेगूसराय के सिंघौल में एक श्रद्धांजलि सभा के दौरान एक लोकल यूट्यूब चैनल के पत्रकार को विधायक ने जो बयान दिया है उसमें कई ऐसे बोल है जिसको लेकर विधायक की खिंचाई सोशल मीडिया पर यूजर्स के द्वारा किया जा रहा है। इस वीडियो में जो करीब 14:15 मिनट का वीडियो है इसमें न्यूज़ रिपोर्टर मृत्यु भोज के खिलाफ माहौल बनाते हुए दिख रहे हैं , जिसमें विधायक सामाजिक कार्यकर्ता व वहां पर मौजूद कुछ अन्य महिलाओं के बयान शामिल हैं। बहरहाल इस वीडियो में विधायक सूर्यकांत पासवान से बात करने से पहले न्यूज़ रिपोर्टर ने जो भूमिका बांधी है उसको आप पढ़िए और उसके बाद विधायक सूर्यकांत पासवान ने क्या जवाब दिया है उसको भी आप पढ़िए

खबर में न्यूज रिपोर्टर के द्वारा भूमिका बांधे गए शब्द : रूढ़िवादी व्यवस्था के कारण मृत्यु भोज करना पड़ता है इसमें हजारों नहीं लाखों खर्च होते हैं, लोग इसके खिलाफ उठकर खरे होने लगे हैं । सिंघौल के बजवाचक में एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं , जिन्होंने अपने पिताजी के मृत्यु में किसी भी प्रकार का मृत्यु भोज नहीं किया है। कर्मकांड से अलग सिर्फ एक श्रद्धांजलि सभा आयोजित की है। बखरी ( सु ) सीट के विधायक सूर्यकांत पासवान जी इसमें शामिल होने आए हैं । हम उनसे ही जानते हैं । रूढ़िवादी व्यवस्था खत्म होना चाहिए या नहीं होना चाहिए ।

विधायक से न्यूज रिपोर्टर का प्रश्न मृत्युभोज के खिलाफ यह कार्यक्रम है कैसा लग रहा है आपको

विधायक सूर्यकांत पासवान के बोल : आपका बहुत धन्यवाद । ये मृत्यु भोज के खिलाफ सन्तोष जी ने साहसिक कदम उठाया है। हम इस इलाके के लोग को धन्यवाद देते हैं। पिछले दिनों मेरे पिताजी माताजी कोविड-19 के पीरियड में गुजर गए हमने कोई क्रिया कर्म श्राद्ध कर्म नहीं किया । मैं संतोष जी को धन्यवाद देना चाहता हूं कि आपने इस इलाका में यह काम किया जो काबिले तारीफ है। मृत्युभोज निराधार है इसकी कहीं कोई सत्यता नहीं है। हम लोग जो करते हैं वह ब्राह्मणवादी के खिलाफ कदम उठाया है। जिन्होंने हम लोगों को आज तक ठगते आया है । आपके पिताजी मरे हैं तो दान कीजिए चौकी दान कीजिए तो तोसक दान कीजिए। यह असत्य है। इसकी कोई प्रसंगिगता नहीं है। वह इस पर सोएंगे लेकिन आज संतोष जी ने जो कदम उठाया है । उसको खत्म करने में थोड़ा समय लगेगा इसीलिए धैर्य से आप सुनिए और इसका प्रचार-प्रसार कीजिए ।

विधायक सूर्यकांत पासवान के बयानों के बाद न्यूज़ रिपोर्टर सामाजिक कार्यकर्ताओं और महिलाओं से भी रूबरू होते हैं इस वीडियो में जो महिलाएं बयान देते हुए नजर आती है। उसमें उस महिला का कांसेप्ट क्लियर नहीं है। वीडियो देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि वहां पर वह बयान देने से पहले जो भी लोग बयान दिए उसके कुछ शब्द को चुनकर हुए लगातार कैमरा के सामने वक्तव्य परोस रही हैं। दूसरी तरफ उक्त यु ट्यूब चैनल के वीडियो पर यूजर्स ने बखरी विधायक की जमकर क्लास भी लगा दी है। तो इसी वीडियो के कमेंट सेक्शन में कुछ यूजर्स विधायक के समर्थन में भी कमेंट किए हैं

You may have missed

You cannot copy content of this page