4 February 2023

बेगूसराय में भक्त ने सीने पर गंगाजल से भरे 7 कलश रखकर मां दुर्गा की आराधना में हुए लीन

Kalas

बेगूसराय : तेघड़ा नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अवस्थित दुर्गा मंदिरों में सोमवार को कलश स्थापना के साथ ही नौ दिवसीय नवरात्र विधि विधान के साथ शुभारंभ हो गया।नौ दिनों तक मां के विभिन्न रुपों की आराधना तथा पूजावा व अर्चना मां के श्रद्धालुओं द्वारा किया जाएगा। प्रखंड क्षेत्र स्थित सिद्धपीठ बरौनी घटकिन्डी दुर्गा स्थान जहां सदियों से शक्ति रूपा मां की महिमा की गुन गाथा दूर दूर तक फैली हुई है।

वही बरौनी डेयुढ़ी बरौनी तीन पंचायत भवन के समक्ष प्रसिद्धि के रूप में प्राचीन काल से स्थापित दुर्गा मंदिर में इस बार बरौनी 3 पंचायत के वार्ड संख्या 3 के विकास कुमार ने प्रथम बार माता की आराधना अपने सीने पर साथ कलश रखकर मां दुर्गा पूजा अर्चना शुरू किया है । इस दौरान पानी भी ग्रहण नहीं करेंगे। मां की उपासना में लीन भक्तों के दर्शन को लेकर श्रद्धालुओं की भीड़ देखी जा रही है।

तेघरा बाजार की प्रसिद्ध दुर्गा स्थान,नोनपुर दुर्गा स्थान,चिल्हाय दुर्गा स्थान, बरौनी डेयुढ़ी दुर्गा स्थान, दुलारपुर एवं पिढौली दुर्गा स्थान , हसनपुर दनियालपुर एवं मघुरापुर दुर्गा स्थान किरतौल,गौरा, एवं मरसैती दुर्गा स्थान सहित कुल 25 से अधिक पूजा मंडप अवस्थित दुर्गा मंदिरों में शारदीय नवरात्र के अवसर पर मां की आराधना होती है, तथा उपरोक्त सभी स्थानों में सोमवार को कलश स्थापना की गई।

उपरोक्त सभी स्थानों में बड़े बड़े पंडाल बनाए जा रहे हें। इसके अलावे बड़े पैमाने पर श्रद्धालुओं द्वारा घरों एवं देव स्थानों में कलश पूजन की शुरुआत भी विधिवत की गई है। हिंदू धर्म में नवरात्र का काफी महत्व है। इस बार सोमवार पढ़ने के साथ-साथ शुक्ल और ब्रह्मा योग बन रहा है। इस शुभ योग में मां दुर्गा और उनके नौ रूपों की पूजा करने से कई गुना अधिक फलों की प्राप्ति होगी। मां के इस बार की सवारी हाथी है जिससे धरती पर हर जगह हरियाली और खुशहाली होगी।