बेगूसराय में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है बूढ़ी गण्डक नदी, 1987 के उच्चतम जलस्तर के करीब पहुंचा पानी

Begusarai Flood

न्यूज डेस्क : बेगूसराय जिले में बूढ़ी गण्डक नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। चढ़ते जुलाई माह के साथ ही बूढ़ी गंडक में जलस्तर में वृद्धि अपने चरम पर है। लगातार कई दिनों से तीव्र गति से बढ़ रही बूढ़ी गंडक नदी का पानी बाएं तटबंध तक पहुंच चुका है।

तटबन्ध तक पानी और नदी का धार दोनों मिलकर एक हो गया है। चारो ओर पानी ही पानी का नजारा दिख रहा है। विगत शुक्रवार की शाम नदी का जलस्तर बेगूसराय बाढ़ डीविजन में सिवरी पुल मीटर गेज में खतरे का निशान 40.67 को पार गया । शनिवार को जलस्तर 40.94 रीड किया गया। जो कि रविवार खतरे की निशान से एक मीटर तैतीस सेमी ऊपर चढ़कर जलस्तर 41.34 पर पहुंच चुका है । रोसड़ा डीविजन में तो नदी का जलस्तर विगत पन्द्रह दिनों से खतरे की निशान 42.63 के पार बह रहा है। रविवार की सुबह रोसड़ा रेलवे पुल मीटर गेज में जलस्तर खतरे की निशान से 03.37 मीटर ऊपर चढ़कर 45.26 पर पहुंच गया है। नदी अपने रौद्र रूप से जिलेवासियों को अब डराने लगी है। नदी के अगल बगल बसे हुए गांव के लोगों में नदी का रूप देखकर भय व्याप्त हो गया है।

फसलें डूबने से किसानों में बेचैनी : जिले में बूढ़ी गण्डक नदी की पानी दाएं और बाएं दोनों तटबन्धों को छू चुका है। यह नदी जिला में तेघड़ा , मंझौल , सदर , बखरी और बलिया अनुमंडल क्षेत्र के बीचोबीच गुजरती है। सभी जगहों पर दियारा में लगी सभी फसलें डूब गई है। किसानों के समक्ष हरा चारा और पशुचारा की किल्लत हो गया है। नदी की मुख्यधारा में पानी काफी तेज रफ्तार से बह रहा है। नदी के तटीय क्षेत्र में बसे गांव के लोग तटबन्ध पर पहुंचकर पानी को देखने लगे हैं।

विभाग अलर्ट तटबन्ध की निगरानी में जुटे अभियंता और संवेदक : बाढ़ विभाग के अभियंता और संवेदक तटबन्ध की निगरानी में लगे हुए है। पानी तटबन्ध के छुने के बाद कामगार लगातार तटबन्ध पर मिट्टी की बोरा लेकर घूम रहे हैं। मंझौल अनुमंडल मुख्यालय में पिछले साल जिन जगहों पर खतरा उतपन्न हुई । वहां विभाग के द्वारा बैग पिचिंग का काम पहले ही पूरा किया गया है। बहरहाल विभागीय स्तर से लगातार निगरानी का दावा किया जा रहा है।

क्या कहते हैं अभियंता : अभी तटबन्ध पर दबाब नहीं है। पानी और भी बढ़ने के आसार हैं। अभी सिवरी पुल मीटर गेज में पानी 1987 ई का उच्चतम जलस्तर 42.42 से नीचे हैं। बेगूसराय डीविजन में दो दिनों से नदी खतरे के निशान के पार वह रही है। तटबंध पर लगातार पेट्रोलिंग किया जा रहा है। फिलहाल कहीं से किसी प्रकार का कोई दिक्कत नहीं है।

प्रभास कुमार जेई , बेगूसराय बाढ़ डीविजन

जुलाई माह में जलस्तर में हुई तीव्र वृद्धि की यह रिपोर्ट

बेगूसराय डीविजन : सिवरी पुल मीटर गेज की रिपोर्ट

खतरे का निशान – 40.67

  • 01 जुलाई : 39.26
  • 02 जुलाई : 39.26
  • 03 जुलाई : 39.36
  • 04 जुलाई : 39.42
  • 05 जुलाई : 39.45
  • 06 जुलाई : 39.63
  • 07 जुलाई : 39.87
  • 08 जुलाई : 40.15
  • 09 जुलाई : 40.51
  • 10 जुलाई : 40.94
  • 11 जुलाई : 41.34
You cannot copy content of this page