बहू के प्रेम प्रसंग का राज जान गई थी बूढ़ी सास फिर बहू ने किया कुछ ऐसा कि पहुंच गई हवालात

Dever Bhavi

न्यूज डेस्क : बड़े अरमान से तकरीबन दस वर्ष पहले बेटे की धुमधाम से विवाह कर घर में बेटी स्वरूप लायी गयी एक कलयुगी पुत्रवधु ही सास की हत्यारिन निकली। अब जब ऐसे अजीबोगरीब मामला उभर कर सामने आया तो पुलिस पदाधिकारियों के साथ साथ क्षेत्र के आमलोगों में ना सिर्फ कातिल बहु के नाम पर थु-थु हो रहा है,बल्कि रिशते को शर्मसार करनेवाली कलयुगी पुत्रवधु के कारनामों से लोग स्तब्ध और निःशब्द है।

मामला छौड़ाही ओपी थाना क्षेत्र के परोड़ा पंचायत अंतर्गत अनुसुचित जाति मोहल्ले की है। जहाँ 13 अप्रैल 2021 की मध्य रात्रि उसी गाँव के अकलु साह की 45 वर्षीय पत्नी चुनचुन देवी की गला दबाते हुये मुँह पर ठोस कपड़ा डालकर हत्या कर दी गयी थी।बलाइंड मर्डर का पता उस वक्त चला जब अहले सुबह मृतका के घर से परिजनों छोटे छोटे बच्चे की रोने की आवाज आयी।रोने चिल्लाने की आवाज सुनकर जुटे ग्रामीणों ने जब देखा तो विश्वास ही नहीं हो रहा था कि चुनचुन देवी की आखिर किस कारणों से हत्या कर दी गयी।

चचेरे देवर के प्रेम में पागल थी बहू सास की हत्या की वजह और राज की कहानी घटना के दिन ही करीब करीब साफ होने लगे थे,लेकिन पुलिस किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं करते हुये मामले की गंभीरता से पड़ताल करने के बाद जब हत्या के रहस्य से पर्दा उठा तो सबके होश ठिकाने लग गये।घटना के तुरंत बाद पुलिस घटनास्थल से साक्ष्यों को संकलन किया और शंका के आधार पर पुलिस घटना के दिन ही मृतका की पुत्रवधु खुशबु देवी और चचरे देवर गंगा साह को हिरासत में लेकर पुछताछ किया तो रहस्यमय बलाइंड मर्डर का पर्दाफाश हो गया।

पुलिस के निकट दोनों ने कबुला जुर्म रविवार को छौड़ाही ओपी थाना में पत्रकारों को जानकारी देते हुये थानाध्यक्ष राघवेन्द्र कुमार और एसआई अजय कृष्ण ओझा ने संयुक्त रूप से बताया कि 13 अप्रैल 2021 को परोड़ा पंचायत के अनुसुचित जाति मोहल्ले में मध्य रात्रि में चुनचुन देवी की हत्या के बाद घटनास्थल से मिले साक्ष्यों के आधार पर जाँच पड़ताल शुरू की गयी तो घटना के दिन ही प्रारंभिक पड़ताल में ही हत्या की शक की सुई मृतका के पुत्रवधु और चचरे देवर गंगा साह पर गयी।शंका के आधार पर दोनों को हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पुछताछ की गयी तो पुत्रवधु और चचरे देवर ने कुबुल किया कि दोनों के बीच अवैध संबंध थे।जिसका विरोध सास चुनचुन देवी किया करती थी।

सास द्वारा दोनो के अवैध संबंध का लगातार विरोध किये जाने के बाद पुत्रवधु ने चचरे देवर संग मिलकर घटना की रात गला दबाकर घर में ही सास की हत्या कर जहाँ जिस खाट पर चुनचुन देवी सोयी हुयी थी।उसी पर उसको रख दिया,और फिर बनावटी आँसु बेहोश होने का नाटक पुत्रवधु ने किया।थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार पुत्रवधु और चचरे देवर के अनुसार जानबुझकर छह महिने के नवजात शिशु को रूला दिया,और फिर सास की हत्या गला एवं मुँह पर कपड़ा डालकर कर दिया।थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले में मृतका की माता परोड़ा के डुमरी गाँव निवासी सोहगिया देवी के लिखित बयान पर मामले में थाना कांड संख्या 81/2021 दर्ज कराते हुये पुत्रवधु और चचरे देवर गंगा साह को नामजद अभियुक्त बनाया गया।थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया,और पुलिस अभिरक्षा में न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।जहाँ से न्यायालय के आदेश पर गिरफ्तार अभियुक्तों को जेल भेज दिया गया है। हत्यारिन विवाहिता महिला के ससुर सास और सगा देवर परदेश में रहकर करता था मजदुरी।

हत्यारिन कलयुगी बहु खुशबु देवी के ससुर अकलु साह,पति दिलीप कुमार साह और नाबालिग देवर छोटु साह गरीबी की वजह से परिवार का भरण पोषण करने के लिये परदेश रहकर मजदुरी करता है।लिहाजा घर पर कोई भी पुरूष सदस्य नहीं थे।बताया जाता है कि इसी मौके का फायदा उठाकर आनेजाने के क्रम में विवाहिता पुत्रवधु का प्रेम चचरे देवर से हो गया।चचरे देवर के प्रेम में पागल खुशबु देवी लगातार अवैध संबंध देवर संग बनाने लगी।जिसका विरोध मृतका चुनचुन देवी कर रही थी।चचरे देवर संग इश्क में दीवानी पुत्रवधु ने उक्त दिन मिलकर घर में ही सास की गला दबाकर मौत के घात उतार दिया।पुत्रवधु को एक छह वर्ष की लड़की और एक महज छह माह का नवजात शिशु है।पुत्रवधु खुशबु देवी मुल रूप से समस्तीपुर जिले के उजियापुर थाना क्षेत्र के नाजिरगंज के निकतपुर गाँव में मैयके है।

मोबाईल पायल और टुटी चुरी लहठी ने खोला हत्या का राज। बताया गया कि जब 14 अप्रैल 2021 को घटनास्थल पर पुलिस पहुँची और जब पुलिस ने प्रारंभिक जाँच पड़ताल की तो मृतका के पुत्रवधु खुशबु देवी के घर से एक पायल और बिछावन पर से टुटी हुयी लहठी चुरी को बरामद किया था।जबकि पुत्रवधु के घर में रखे मिट्टी की कोठी टुटा हुआ दिखा।घटनास्थल देखने के बाद ही सपष्ट हो गया कि शायद उसी घर में चुनचुन देवी हत्या की गयी हो।आखिकार गिरफ्तारी के बाद इसकी पुष्टि खुद दोनों ने कर दी।पुलिस अनुसंधान में भी घर में ही हत्या किये जाने की बात थानाध्यक्ष ने बतायी।

पड़ोसी के बयान से मामला सुलझाना हुआ आसान घटना के बाद 14 अप्रैल 2021 को मृतका के पड़ोसी खलट पासवान और उसकी माता का बयान यह साफ कर रहा था कि हत्या में पुत्रवधु के शामिल है,और कातिल बहु ही है।तब यह सपष्ट नहीं हो पा रहा था कि और कौन कौन लोग हत्या में शामिल है,लेकिन पुलिस जाँच बढ़ी तो सबकुछ साफ है गया।घटना की रात की कहानी को बयां करते हुये मृतका चुनचुन देवी के पड़ोसी खलटु पासवान ने पुलिस को बताया था कि घटना की रात उस घर से बच्चे की बहुत देर से रोने और बक्सा कोठी जोर जोर से खटपट की आवाज आने पर पत्नी के कहने पर वहाँ गये तो चुनचुन देवी बिछावन पर नहीं थी।

जब उनके पुत्रवधु से बच्चे के रोने का कारण पुछा तो थोड़ा सा घर का दरवाजा खोलकर उसने यह कह दिया कि हम बच्चा को चुप कर लेंगें। कोई बात नहीं है जाईये,और जब सुबह रोने चिल्लाने की आवाज आयी तो देखने गया तो उसी खाटिया पर चुनचुन देवी मृत मिली।जिस वह प्रतिदिन की तरह खाना खाकर रात में सोयी हुयी थी।उसके बाद पुलिस जाँच में सबकुछ साफ हो गया।पुत्रवधु के इस कारनामे की क्षेत्र में सभी जगह सास बहु के दुसरे स्वरूप माता बेटी रिशते को कलंकित करने की चर्चा सरेआम है। वहीं देवर के प्यार में आशिक बनी भाभी ने पति पत्नी के नाजुक विश्वास के रिशते को तार तार कर रखा।

You may have missed

You cannot copy content of this page