बिहार में बढ़ रहा ब्लैक फंगस, 9 नए मामले के साथ मरीजों का आंकड़ा 25, पटना AIIMS में आज खुलेगा स्‍पेशल वार्ड

Black Fungus Bihar

डेस्क : बिहार के लोग इन दिनों लोग कोविड-19 से परेशान है। ऊपर से एक और नए वायरस प्रदेश में दस्तक देकर लोगो की परेशानियां बढ़ा दी है। बिहार में कोविड मरीजों (Post COVID Patients) में अब तक ब्लैक फंगस के कुल 30 मामले मिल चुके हैं। इसी बीच शनिवार को पटना AIIMS में पांच नए मरीज इलाज के लिए पहुंचे। जबकि, वहां पहले से भी 10 मरीज चिह्नित हैं। मरीजों की अचानक वृद्धि को देखते हुए एम्‍स में सोमवार से 20 बेड का ब्‍लैक फंगस वार्ड खोलने की तैयारी की जा रही है। वैज्ञानिकों के अनुसार मई के अंत तक ब्‍लैक फंगस के लगभग 1000 से 1500 तक मामले समाने आ सकते हैं।

बिहार में बीते 24 घंटे के दौरान मिले नौ नए मरीज: रिपोर्ट के अनुसार बीते 24 घंटे के दौरान ब्‍लैक फंगस के अलग-अलग क्षेत्र से कुल 9 नए मामले सामने आए हैं। जिनमें से पांच मरीज पटना एम्स में, तीन पटना के वेल्लोर ईएनटी सेंटर में, दो पटना के पारस अस्‍पताल में तथा एक कैमूर जिले के रीना देवी मेमोरियल कोविड डेडिकेटेड अस्‍पताल में भर्ती हैं। पटना एम्स में इलाज करा रहे तीन मरीजों में एक मुजफ्फरपुर का तथा दो पटना के हैं। पटना के वेल्लोर ईएनटी सेंटर में भर्ती मरीज पटना, बक्‍सर और औरंगाबाद के हैं। पटना के पारस अस्पताल में भर्ती किए गए दोनों मरीज पटना के हैं। वेल्लोर ईएनटी सेंटर में ब्लैक फंगस के तीनों मरीजों का ऑपरेशन किया जा चुका है।

अब तक कुल 30 मरीज, पटना एम्स में सात: बिहार अगर कुल मरीजों की संख्या की संख्या की बात करें तो अभी तक पटना एम्स में 15 मरीज भर्ती हैं।जबकी, पटना के IGIMS में दो, रूबन मेमोरियल अस्‍पताल में दो और पारस अस्‍पताल में चार मरीज मिल चुके हैं। पटना एम्‍स में भर्ती एक मरीज की आंख की रोशनी चली गई है तो दूसरा बेहोशी की स्थिति में है। एक के ब्रेन में भी संक्रमण है। पूरे राज्‍य में अभी तक ब्‍लैक फंगस के 30 मामले सामने आ चुके हैं।

You cannot copy content of this page