कड़ाके की ठंड और तेज सर्द हवा के चलने के कारण दिन भर घरों में दुबके रहे लोग

कड़ाके की ठंड और तेज सर्द हवा के चलने के कारण दिन भर घरों में दुबके रहे लोग

कड़ाके की ठंड और तेज सर्द हवा के चलने के कारण दिन भर घरों में दुबके रहे लोग

बेगूसराय : पछुआ हवा के लगातार चलने के कारण कनकनी से काफी ठंड बढ़ गई है । ठंड की सिरहन शरीर को चीर गया ,लोग दिनभर रजाई हटाने से कतराते रहे । स्कूल जाने के लिए घर से बच्चे तो निकले जरूर । लेकिन उनकी हालत ठंड के कारण काफी खराब रही ।

बुधवार को जिले का न्यूनतम पारा लुढ़क कर 9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है । सुबह से ही 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पछुआ हवा चल रही है । ठंड से बचने के लिए लोग घर के अंदर और बाहर भी अलाव का सहारा चलाकर ले रहे हैं । जगह-जगह शहर और ग्रामीण क्षैत्र में निजी स्तर से अलाव जलाकर लोग तपते हुए नजर आए।

स्कूल पढ़ने के लिए जाने वाले स्कूल बस पर और ई – रिक्सा पर छोट छोटेेे बच्चे भी ठिठुरते हुए नजर आए

सुबह से एक बार भी नहीं सूर्यदेव का दर्शन दिन भर में कभी हो सका है। जिसके कारण शीतलहर से लोगों का शरीर काँपते रहा है। शीतलहर के चलते एका एक पारा लुढ़का तो लोग घरों में कैद दिनभर रहे। कड़ाके की ठंड और तेज सर्द पछुआ हवाओं ने सबको झकझोर कर नरक दिया है। सबसे ज्यादा समस्या तो उन परिवारों को हो रही है । जो घरों से निकलकर सफर कर रहे हैं। ट्रेन हो या बस यात्रियों को ठंड ने बड़ी मुसीबत में डाल दिया है ।

बुधवार को यात्रा कर रहे यात्री ठंड से बेहाल नजर आए । पशु-पक्षी समेत आम जनजीवन ठंड से प्रभावित है । अधिकतर बसें डिपो में खड़ी दिखी ,जो बस सड़क पर खड़ी थी । उनमें यात्री भीषण ठंड के कारण काँपते नजर आए। कुछ यात्री परिसर में कंबल में लिपटे फर्श पर बैठे ठंड से बचाव करते दिखे।