बेगूसराय के पावर हाउस चौक का नाम बदला, अब इस नाम से जाना जाएगा

न्यूज डेस्क , बेगूसराय : आप अगर बेगूसराय शहर के पॉवर हाउस चौक जाने का सोच रहे हैं या किसी को भी पॉवर हॉउस चौक का पता देने की सोच रहे हैं, तो रुकिए। अब पॉवर हाउस चौक का नाम कर्पूरी ठाकुर चौक हो गया है। बुधवार को नगर निगम बेगूसराय के स्वीकृति से पावर हाउस चौक का नामकरण जननायक कर्पूरी ठाकुर चौक (Karpoori Thakur Chowk Begusarai) कर दिया गया । इस समारोह की अध्यक्षता पूर्व मेयर आलोक कुमार अग्रवाल ने किया।

उन्होंने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर पिछड़े गरीब दलित के मसीहा थे, वह दो बार बिहार के मुख्यमंत्री बने । उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए मंडल कमीशन के 10 वर्ष पूर्व ही पिछड़ों को 27% का आरक्षण दिया। शिविर लगाकर इंजीनियर डिग्री धारकों को जो बेरोजगार थे सरकारी नौकरियां दी । उस समय मैट्रिक की परीक्षा पास करने के लिए अंग्रेजी में पास करना जरूरी होता था । जिसके कारण गांव देहात के छात्र एवं छात्राएं अंग्रेजी में फेल होने के कारण मैट्रिक की परीक्षा पास नहीं कर पाते थे । जिसके कारण उनका दाखिला कॉलेज में नहीं होता था। कर्पूरी ठाकुर ने मैट्रिक की परीक्षा में अंग्रेजी को ऐच्छिक विषय बना दिया । जिसके कारण गांव देहात के अधिकांश बच्चे मैट्रिक पास करने लगे और उनका दाखिला कॉलेजों में होने लगा । इसके साथ ही वे कई सरकारी प्रतियोगिताओं में सफल होने लगे और उन्हें नौकरी मिली ।

जब कर्पूरी ठाकुर जी का निधन हुआ उनका जो पैतृक गांव था उनके पास पक्का मकान भी नहीं था । पटना में भी एक भी मकान नहीं बना सके , वे सादगी और ईमानदारी के प्रतीक थे । नगर निगम वार्ड नंबर 16 के पार्षद प्रतिनिधि उमेश ठाकुर ने कहा कि यह बेगूसराय के गौरव की बात है साईं भक्त रंजीत ठाकुर जिनके सतत प्रयास से जिला प्रशासन और नगर नगर निगम प्रशासन ने पावर हाउस चौक का नामकरण जननायक कर्पूरी ठाकुर चौक करने की स्वीकृति दी। उन्होंने कहा की फोरलेन बनने के बाद इस चौक पर जननायक कर्पूरी ठाकुर की एक भव्य मूर्ति स्थापित की जाएगी । इस सभा को प्रभात कुमार पिंटू, रामचरित्र ठाकुर ,मदन ठाकुर , मनोहर ठाकुर आदि ने संबोधित किया।