बेगूसराय : महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आत्मा ने दिया तीन दिन का प्रशिक्षण

बेगूसराय : कृषि प्रोद्योगिकी एवं विकास अभिकरण (आत्मा) बेगूसराय द्वारा 19 फरवरी से आयोजित तीन दिवसीय जिला स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन रविवार को हो गया। इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में आत्मा योजना के तहत चालू वित्तीय वर्ष के लिए प्रत्येक प्रखंड से दो-दो महिला खाद्य सुरक्षा समूह की 22 महिला सदस्यों को प्रशिक्षित किया गया है। ताकि महिलाएं अपने परिवार और समाज को आत्मनिर्भर बना कर आत्मनिर्भर बिहार और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में सहभागी बन सकें।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में महिलाओं को खाद्य सुरक्षा से संबंधित तकनीकी जानकारी एवं प्रायोगिक कार्य के माध्यम से प्रशिक्षित किया गया। इस दौरान महिलाओं को ओयस्टर मशरूम का उत्पादन, बटन मशरूम का उत्पादन, उत्पादित मशरूम से आचार का निर्माण, बटन मशरूम उत्पादन के लिए कंपोस्ट का निर्माण आदि प्रायोगिक कार्य के माध्यम से बताया गया। वहीं, महिलाओं को खाद्य सुरक्षा से संबंधित अन्य तकनीकी भी दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला कृषि पदाधिकारी शैलेश कुमार, आत्मा के उप परियोजना निदेशक अजीत कुमार, कृषि विज्ञान केंद्र के वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ. रामपाल, डॉ. नीरज एवं डॉ. मुकेश के अलावा जिले में मशरूम का उत्पादन एवं प्रसंस्करण से संबंधित कार्य करने वाले कृषकों तथा कृषि विशेषज्ञों के रूप में अमित कुमार, मुरारी मिश्रा, राजेश कुमार सिंह, खुशबू कुमारी, रजनी रानी एवं रिचा कुमारी आदि विशेषज्ञों के द्वारा तकनीकी जानकारी दी गई। आत्मा के उप परियोजना निदेशक अजीत कुमार ने बताया कि समापन के दौरान सभी सदस्यों को प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया गया है। अब इन महिलाओं को मशरूम उत्पादन के क्षेत्र में वित्तीय संस्थान के साथ-साथ उद्यान विभाग द्वारा संचालित योजनाओं से टैग कर रोजगार सृजन करके आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।