बेगूसराय : किसान आंदोलन के समर्थन में किसान संघर्ष समन्वय समिति का प्रतिरोध मार्च

Farmer

बीहट / बेगूसराय : दिल्ली में जारी किसानों के आंदोलन के समर्थन में बामदलों के राज्यव्यापी कार्यक्रम के तहत बरौनी प्रखंड के बीहट चांदनी चौक पर बुधवार के दिन सीपीआई,कांग्रेस,राजद, माले के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला जलाया। इससे पहले प्रतिरोध मार्च और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अर्थी जुलूस किसान सभा के प्रखंड संयोजक नवीन कुमार, कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष ओम प्रकाश सिंह और राजद के प्रखंड नेता रामानंद यादव के संयुक्त नेतृत्व में भाकपा बरौनी अंचल कार्यालय से निकाला जो बीहट बाजार का भ्रमण करते हुए चांदनी चौक पर सभा में तब्दील हो गया।

सभा की अध्यक्षता करते हुए भाकपा बरौनी के कार्यकारी अंचल मंत्री नूर आलम खान ने कहा कि दिल्ली मार्च कर रहे किसानों पर केंद्र सरकार का दमनात्मक रवैया घोर निंदनीय है। एटक के जिला सचिव प्रहलाद सिंह और इंटक के जिला अध्यक्ष चुनचुन राय ने कहा की देश की मोदी सरकार देश के किसानों मजदूरों के खिलाफ साजिश के तहत करोना काल में किसान मजदूर विरोधी काला कानून बनाई है। देश के किसान और मजदूर इस कानून के खिलाफ सड़कों पर हैं।

अखिल भारतीय किसान सभा के जिला सचिव अरविंद सिंह और माले के नेता रामनरेश सिंह ने कहा कि आवश्यक वस्तु अधिनियम मे संशोधन कर केंद्र सरकार ने पूजी पतियों के लिए जमाखोरी का रास्ता खोल दिया इससे कालाबाजारी बढ़ेगा । एआईएसएफ के जिला उपाध्यक्ष राकेश कुमार और असंगठित मजदूर नेता ज्ञानी ताँती ने कहा कि आंदोलनकारी किसानों मजदूरों पर सरकार कि सोशल मीडिया सेल मनगढ़ंत आरोप लगा कर उनके आंदोलन को बदनाम करने पर तुली हुई है। यह निंदनीय है ।

मौके पर किसान नेता रामाधार सिंह, कांग्रेस नेता पवन कुमार,छात्र नेता ईशु वत्स,फुलेना राय,रौदी कुमार, नवीन कुमार, अशोक पासवान, भोला ताँती,रिजवान खान,समीम शाह,भागीरथ राय,सत्यम भारद्वाज, एजाजुल हक,जावेद खान, अशोक रजक,प्रवीण, मो. सरबर,वकील रजक,अमीर ताँती, शैलेंद्र कुमार,राजेश कुमार, रंजीत पोद्दार, आरजू, राजा समेत सैकड़ों किसान मजदूर छात्र नौजवान उपस्थित थे।

You cannot copy content of this page