बेंगलुरु से पैदल पहुंचा बेगूसराय फिर रुआंसा होकर कहा पांच दिन से कुछ खाया नहीं

On foot Banglore to begusarai

छौड़ाही : 21 दिन लोकडॉवन के घोषणा सुनते ही राज्य के बाहर से प्रवासियों का घर आना शुरू हो चुका है, राज्य से बाहर काम करने बाले कामगार मजदूर काम बंद होने के बाद से किसी तरह जुगाड़ से बिहार पहुचने की कोशिश में लगे हुए हैं , जुगाड़ नहीं होने पर पैदल ही देश के कोने कोने से कई राज्यों से बिहार के तरफ राज्य के मजदूर आ रहे हैं। इसी क्रम में आज सोमवार को छौड़ाही प्रखंड में मधुबनी वासी पवन साह जो कर्नाटक के बेंगलुरु से पैदल यात्रा कर घर जाने के क्रम में भटकते हुए छौड़ाही बाजार आ पहुंचे ।

उक्त व्यक्ति के छौड़ाही पहुचते ही पुलिस ने बेंगलुरु से आने की बात सुन मदद करने के बदले चले जाने की बात कही। हालांकि इसकी सूचना पाकर ग्रामीणों ने भूखे प्यासे पवन को भोजन पानी मुहैया करवाया, और एक मालवाहक ट्रैक्टर पर चढ़ा मधुबनी के लिए रवाना किया।

पवन शाह ने उक्त ग्रामीणों को रुआंसे आवाज में आपबीती सुनाई, उसने कहा कि काम बंद होने पर मालिक ने घर जाने को कहा , जिसके बाद साधन के अभाव में पैदल चलते-चलते यहां तक आ पहुंचे । हमने पांच दिन से कुछ खाया पिया भी नहीं है। उन्होंने बताया कि रास्ते में कोई भी मदद करने को तैयार नहीं हुआ। पानी तक चापाकल पर पीने नहीं दिया जाता था। छौड़ाही के लोगों ने काफी मदद किया खाना पानी देखकर घर जाने की भी व्यवस्था करवा दिया गया ।