बेगूसराय के दरोगा बाबू ने पेश की सच्ची मोहब्बत की मिसाल नौकरी करके प्रेमिका संग रचाई शादी

डेस्क : आज के जमाने में प्यार करना कोई गुनाह नहीं है। बिलकुल सही पढ़ा आपने। आज के समय में भारत के नागरिकों को अपने हक़ बखूबी पता हैं और खासकर वह नागरिक जो बालिग़ हो गए हैं। अपने चुनाव का अधिकार भी लोग बखूबी समझते है। देश में अभिव्यक्ति की आज़ादी है और कोई भी किसी से प्यार कर सकता है लेकिन प्यार का अंजाम हर एक का ऐसा नहीं होता जैसा हमें नालंदा जिले में देखने को मिला। यहां पर एक अनोखी शादी देखी गई है जिसमें लड़की एक छात्रा है और लड़का पुलिस दरोगा। जी हाँ, बताया जा रहा है की दरोगा जी ने अपनी गर्लफ्रेंड से शादी की है जो अभी पढ़ाई कर रही है।

दोनों 10 साल से रिलेशनशिप में थे। नालंदा के अस्थांवा थाना में तैनात पी एस आई मुरली मनोहर आजाद ने बाबा मनीराम अखाड़े में सालों पुरानी गर्लफ्रेंड से शादी करके यह दिखा दिया की उनका प्यार सच्चा है। बता दें की शादी के वक्त लड़की के परिवार वाले मौजूद थे। दरोगा मुरली मनोहर आज़ाद बेगूसराय के मंसूरचक थाना क्षेत्र से हैं . मुरली मनोहर ने कसम खाई थी की वह नौकरी लगने के बाद ही शादी करेंगे और फिर 10 साल बाद उन्होंने नौकरी पाने के बाद शादी की। उन्होंने बताया की इस वक्त उनका कोर्ट में प्रशिक्षण चल रहा है। उनकी प्रेम कहानी पिछले 10 वर्षों से चल रही है। लेकिन नौकरी के बाद शादी करने का वायदा उन्होंने पूरा करके दिखाया है, सब थाने के पुलिस कर्मी उनके धैर्य की दात दे रहे हैं।