86 साल बाद रेल से कोसी व मिथिला का होगा मिलन,18 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी दिखाएंगे हरी झंडी

KOSI AND MITHLA

डेस्क : विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आगामी 18 सितम्बर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) कोसी रेल महासेतु (Kosi Rail Mahasetu) का उद्घाटन कर इन मिथिला और कोसी को बहुत बड़ी सौगात देंगे। इसके साथ ही, मिथिला क्षेत्र और कोसी क्षेत्र (Mithila and Kosi Area) के निवासियों का रेल लाइन से जुड़ने के लिए 86 सालों का लंबा इंतजार खत्म हो जाएगा है।

करीब दो किलोमीटर लंबे इस कोसी महासेतु को बनाने का काम 6 जून 2003 को शुरू किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वायपेयी ने इस परियोजना का शिलान्यास किया था। इस परियोजना की लागत करीब 516 करोड़ रुपये है। कोसी महासेतु के साथ ही सरायगढ़ से आसनपुर कुपहा रेलखंड का उद्घाटन 18 सितंबर को होने जा रहा है।पीएम नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोसी महासेतु का उद्घाटन करने वाले हैं।समस्तीपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम सरस्वती चंद्र के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोसी महासेतु का उद्घाटन करेंगे।साथ ही सरायगढ़ से आसनपुर कुपहा के बीच ट्रेन भी रवाना की जायेगी।

कोसी और मिथिला के लोगों का ये वर्षो पुराना अधूरा सपना अब जाकर सच होने वाला है। कोसी नदी पर बने रेल महासेतु पर ट्रेन का ट्रायल सफल होने के बाद अब जल्द ही ट्रेन दौड़नी शुरू हो जाएगी। इस रेल पुल के शुरू होते ही निर्मली से सरायगढ़ की 298 किलोमीटर की दूरी घटकर महज 22 किलोमीटर रह जाएगी।अभी निर्मली से सरायगढ़ तक के सफर के लिए लोगों को दरभंगा-समस्तीपुर-खगड़िया-मानसी-सहरसा होते हुए 298 किमी की दूरी तय करनी होती है।

You cannot copy content of this page