सिवरी पुल के समीप नदी में डूबने के 24 घण्टे बाद एक युवक का शव मिला दूसरे को खोजने के लिए SDRF पहुंची

डेस्क : रविवार सुबह स्नान के क्रम में जो दो युवक की बुढी गंडक नदी में सिवरी पुल के समीप डूब गये थे। उसका सोमवार सुबह एक युवक की डेड बॉडी पानी से निकला जिसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है। एसडीआरएफ की टीम खोजबीन के लिए आ चुकी है दूसरे युवक को भी खोजा जाएगा घाट पर हजारों लोगों की भीड़ जुटी है वहीं मरने वाले युवक के स्वजनों में चित्कार मचा हुआ।

विदित हो कि सिवरी पुल के समीप जिले के मंझौल ओपी क्षेत्र में सिवरी पुल के समीप कोरिया घाट में बूढ़ी गंडक नदी में स्नान करने क्रम में रविवार की सुबह तीन युवक डूब गए। मौके पर प्रत्यक्षदर्शियों ने एक युवक की जान बचाकर गम्भीर अवस्था में इलाज के लिए बेगूसराय भेज दिया। तीनों युवक का कपड़ा नदी के बगल में रखा हुआ था । लोगों ने किसी तरह पता लगाकर डूबे हुए युवक के स्वजनों को सूचना दिया।

मौके पर पहुंची मंझौल पुलिस स्थानीय गोताखोरों क़ी मदद से दोनों डूबे हुए युवक की खोजबीन में लगी हुई थी। ओपी अध्यक्ष सुबोध कुमार ने बताया गोताखोर और महाजाल के द्वारा खोजबीन जारी है जरूरत पड़ने पर एसडीआरएफ़ की टीम को बुलाया जाएगा। उक्त घटना में इलाज के गए युवक की पहचान बेगूसराय के गाछी टोला निवासी अर्चित कुमार के रूप में हुई। शेष दो डूबे हुए युवक में से एक युवक उलाव निवासी ओमप्रकाश चन्द्रवंशी के पुत्र सुजीत प्रकाश के रूप में हुई। जो आईओसीएल का कमर्चारी था। दूसरे युवक की पहचान पोखरिया निवासी योगेंद्र पासवान के पुत्र सन्नी कुमार बताया जाता है। घटना की सूचना पाकर कुछ देर बाद मौके पर जुटी भीड़ ने स्थानीय प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाकर एसएच 55 को जाम कर दिया . करीब दो घण्टे के बाद सड़क जाम को प्रशासन ने खुलवाया ।