बिहार में आगामी पंचायत चुनाव में 21 वर्ष के युवा भी आजमा सकेंगे अपनी किस्मत

न्यूज डेस्क : बिहार में अगले महीने शुरू होने वाले त्रिस्तरीय चुनाव की तारीख घोषणा नहीं हुई है। वहीं चुनाव में युवाओं के लिए बड़ी संख्या में वैकेंसी आने वाली है। वार्ड सदस्य, वार्ड पंच, सरपंच, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य समेत छह श्रेणी के 2.58 लाख पदों पर 21 वर्ष आयु पूरी करने वाले किस्मत आजमा पाएंगे । पंचायत चुनाव में विधानसभा, विधान परिषद और लोकसभा की तरह 25 वर्ष आयु पूरी होने का इंतजार करने की जरूरत नहीं है।

सरकार ने पंचायती राज अधिनियम-2006 के तहत 21 वर्ष आयु पूरी करने वालों के लिए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव लड़ने का प्रावधान है। ऐसे चुनाव में लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार व उनके प्रस्तावक की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष पूरी होनी चाहिए। नामांकन के लिए ग्राम कचहरी, ग्राम पंचायत , पंचायत समिति सदस्य , वार्ड कमिश्नर , वार्ड पंच पदों के लिए नामांकन प्रखण्ड मुख्यालय में होगी । वहीं जिला परिषद सदस्य के लिए नामांकन अनुमंडल मुख्यालय में किये जायेंगे।

पंचायत चुनाव नजदीक आते ही गांव की जनता व संभावित प्रत्याशियों की धड़कनें तेज हो गई है। सभी संभावित प्रत्याशी लोक लुभावने वादे कर रहे हैं। जनता को अपने खेमे में मिलाने के लिए उनसे तरह-तरह के वादे किए जा रहे हैं। सभी प्रत्याशी इस बार चुनावी समर में जंग जीतने के लिए दिन-रात एक किए हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव के देरी हो रहे घोषणा में हो रही देरी से जनता के भीतर कौतूहल मचा हुआ है। पंचायत चुनाव विधानसभा और लोकसभा से भी काफी महत्वपूर्ण माना जाता है कहा जाता है कि इसमें एक-एक वोट के लिए प्रत्याशियों को मशक्कत करनी पड़ती है। तो आप समझ सकते हैं कि पंचायत चुनाव का स्वेग कितना हाई लेवल पर रहता है ।