बेगूसराय में जहरीली शराब पीने के बाद बिगड़ी तबीयत, दो की की गयी जान, एक की हालत गंभीर

Sharab

न्यूज डेस्क : बिहार में शराबबंदी का सफलता अभी भी सरकार के लिए चुनौती बना हुआ है। बताते चलें कि बिहार में कई साल से शराबबंदी कानून लागू है लेकिन इसके अवैध कारोबार की खबरें रोजाना आती ही रहती हैं। दूसरे तरफ तस्करों ने नए टेक्निक का ईजाद कर जहरीली शराब का कारोबार भी कारोबार जोरों पर है। ताजा मामला बेगूसराय के बखरी थाना क्षेत्र का है। जहां थाना क्षेत्र में दो युवक की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गयी। जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। लोगों को आशंका है कि जहरीली शराब पीने से इनकी मौत हुई है। इस मामले में मृतक को दाह संस्कार के लिए जा रहे समय दोनों शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

होली के दिन का है मामला मिली जानकारी के अनुसार होली के दिन कुछ युवकों के साथ शराब पीने के बाद इन तीनों के बाद हालत खराब हो गई। उसके बाद तबियत बिगड़ गयी । ईलाज के क्रम में मौत की बात कही जा रही है। बताया जाता है कि नगर पंचायत के वार्ड संख्या 17 निवासी परमेश्वर चौधरी के 40 वर्षीय पुत्र सकलदेव चौधरी की स्थिति शुक्रवार को अचानक खराब हो गई। जिसे इलाज के लिए ले जाया गया, लेकिन उसकी मौत रास्ते मे हो गई।

श्मशान घाट से शव बरामद बखरी में परिजनों द्वारा बुधवार की सुबह मृतक का शव दाह संस्कार के लिए ले जाया जा रहा था, लेकिन चंद्रभागा नदी के तट पर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। वहीं दूसरी ओर नारायण सहनी के 22 वर्षीय पुत्र राजकुमार सहनी का भी शव दाह संस्कार के लिए ले जाया जा रहा था। पुलिस ने पंचमुहा पुल के समीप से इसका शव कब्जे में ले लिया दोनों युवकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

एक युवक का बेगूसराय में हो रहा है ईलाज वहीं नारायण सहनी के 20 वर्षीय पुत्र बिरजू का इलाज बेगूसराय के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। बखरी एसडीओ अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि शराब पीने से मौत की सूचना के बाद पुलिस ने दोनों युवकों का शव कब्जे में ले लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले का खुलासा हो सकेगा

You cannot copy content of this page