खुशखबरी! 15 साल पुरानी गाड़ी से मिलेगा छुटकारा, मामूली खर्च में मिल जाएगा नया Electric Vehicle..

converting car into electric car

डेस्क : अगर आप अपनी पुरानी कार से परेशान हैं तो आप बेहद मामूली कीमत पर इनसे छुटकारा पा सकते हैं। अब पुराने पेट्रोल-डीजल स्कूटर को इलेक्ट्रिक वाहन में बदला जा सकता है। देश के बड़े शहरों की तरह मध्य प्रदेश में भी रेट्रो फिटमेंट की सुविधा मिल रही है. अगले महीने से दोपहिया स्कूटरों में यह सुविधा पहले इंदौर और फिर भोपाल में मिलेगी।

इससे एक्टिवा जैसे स्कूटर इलेक्ट्रिक वाहनों में तब्दील हो सकेंगे। केंद्र सरकार ने कुछ ही मॉडलों को बदलने की अनुमति दी है। दोपहिया स्कूटर वाहनों में ही लगेगी नई इलेक्ट्रिक किट- सालों से पेट्रोल डीजल कारों को सीएनजी कारों में बदलने का काम चल रहा है। किट और सिलिंडर लगाकर इन्हें सीएनजी कारों में तब्दील किया जाता है, लेकिन अब इलेक्ट्रिक वाहनों की ओर रुझान बढ़ रहा है। हालांकि कारों में इस फीचर को पाने के लिए अभी इंतजार करना होगा। फिलहाल नई इलेक्ट्रिक किट सिर्फ दोपहिया स्कूटर वाहनों में ही लगाई जाएगी।

इसके तहत 15 साल पुराने स्कूटर वाहनों को भी इलेक्ट्रिक वाहन बनाकर नए वाहनों में बदला जा सकता है। एक स्कूटर के रेट्रो फिटमेंट की कीमत लगभग 35 हजार रुपये होगी जो एक नए इलेक्ट्रिक वाहन की लागत की तुलना में बहुत कम है। इसमें किट, बैटरी समेत अन्य उपकरणों की फिटिंग होगी। बैटरी पर तीन साल की वारंटी भी मिलेगी। एक बार चार्ज करने पर यह स्कूटर करीब 70 किलोमीटर चल सकेगा। जानकारी के मुताबिक कार में लगे इलेक्ट्रिक किट पर करीब 5 लाख रुपये खर्च होंगे, जिसकी बैटरी पर तीन से पांच साल की वारंटी होगी। इसके लिए परिवहन विभाग की अनुमति भी जरूरी है।

एक नज़र – इलेक्ट्रिक वाहन किट

  • प्रदूषण कम होगा
  • तीन महीने में शुरू हो जाएगी सुविधा
  • 15 साल से ज्यादा पुराने वाहनों की बढ़ेगी लाइफ
  • नियमों के तहत केवल सीमित मॉडलों को ही इलेक्ट्रिक किट लगाने की अनुमति है
ये भी पढ़ें   महज़ 4 लाख में अपने घर ले जाएं Mahindra Scorpio, ऑफर की ये रही पूरी डिटेल -